'बाबर' के लिए खोज परिणाम

बाबर के पिता का क्या नाम था?

मुग़ल आक्रांता बाबर के पिता का क्या नाम था? और उसका वंश

मुग़ल आक्रांता बाबर के पिता का क्या नाम था? हम सब अपने स्कूलों में बाबर के वंशजो के बारे में पढ़ते आ रहें है क्या हमें मुग़ल आक्रांता बाबर के पिता का नाम पता है कि मुग़ल आक्रांता बाबर के पिता का क्या नाम था? हम आज आपकों इस आर्टिकल ...

जेएनयू बाबरी

JNU के भोले छात्रों के हसीन सपने – बाबरी मस्जिद दोबारा बनानी चाहिए

“कसम बाबर की खाते हैं, मस्जिद वहीं बनायेंगे!” अजीब प्रतीत होता है न, परन्तु यही सत्य है. कुछ लोग अभी भी ऐसा सोचते हैं कि सरकार से लेकर प्रशासन तक, सब उनके क़दमों तले होगी और उनकी जयजयकार करते हुए उनके ‘हुक्म की तामील करेगी’, यानि उनके अनुसार काम करेगी. ...

babri masjid

कथा बाबरी के विध्वंस की – कैसे श्रीराम जन्मभूमि परिसर को मुक्ति मिली

मर्यादा पुरुषोत्तम राजा राम भारतीयों के व्यक्तित्व के संविधान हैं। उनका “राम राज्य" एक शासक के लिए सर्वोत्तम आदर्श है। परन्तु, मानवता के लिए 14 वर्ष का वनवास भोगने वाले प्रभु राम को हम लोगो ने 450 वर्षों का वनवास दिया। अंततः “होईहि सोई जो राम रची राखा” की कहावत ...

The Milli Gazette

‘हिंदू बाबरी विध्वंस का जश्न मना रहे थे’ The Milli Gazette ने गोधरा त्रासदी को उचित ठहराया

भारत एक ऐसा देश है, जहां धर्मनिरपेक्षता की रूढ़िवादी संकल्पना के सहारे लिबरल गुट ने बहुसंख्यक वर्ग पर कड़ा प्रहार करने की कोशिश की है। इसे लिबरल गुट की अल्पबुद्धि का परिणाम ही कहिए कि हाल ही में, देश के कुछ लिबरल्स कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी के शो रद्द होने से ...

वर्ल्ड कप मैन ऑफ द टूर्नामेंट ट्रॉफी

पाकिस्तान की ‘ख्वाहिश’ थी कि MOTT बाबर आजम को मिले, लेकिन रिकार्ड तो कुछ और कहते हैं

पाकिस्तान आतंकवाद का गढ़ है, दुनिया उसके काले करतूतों से पूरी तरह से परिचित है। साथ ही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था डंवाडोल है, देश में महंगाई चरम पर है, वहां की जनता गरीबी की दलदल में धंसती जा रही है। इस आतंकी देश को बड़े देशों से अनुदान मिलना बंद हो ...

अली बाबर

अली बाबर, एक आतंकी ने बताया कैसे पाकिस्तानी सेना जिहाद के लिए युवाओं का ब्रेनवॉश करती है

जम्मू-कश्मीर के उरी सेक्टर में 18 सितंबर से शुरू हुए ऑपरेशन उरी के तहत 26 सितंबर को एक आतंकवादी को भारतीय सेना द्वारा गिरफ्तार किया गया है। 19 वर्षीय पाकिस्तानी आतंकवादी का नाम अली बाबर है। भारतीय सेना ने उसे मीडिया के सामने लाया जिसके बाद अली बाबर ने ऐसे ...

दो कौड़ी के आक्रांता बाबर को सुपरहीरो की भांति दिखा रही है Hotstar की नई सीरीज़ “The Empire”

दो कौड़ी के आक्रांता बाबर को सुपरहीरो की भांति दिखा रही है Hotstar की नई सीरीज़ “The Empire”

कुछ लोगों को देखकर एक ही कहावत याद आती है – भैंस के आगे बीन बजाए, भैंस खड़ी पगुराय। यही हाल बॉलीवुड के एलीट वर्ग का है। समय बदल रहा है, लोग बदल रहे हैं, यहाँ तक कि धर्मा प्रोडक्शंस जैसे कंपनियों को भी ‘Shershaah’ जैसी फिल्में बनाने पर विवश ...

नवाज़ शरीफ़

“हमने अमेरिका की Tomahawk मिसाइल ली, कॉपी करके अपनी बाबर बना ली”, नवाज़ शरीफ़ ने स्वीकारा

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ आजकल लंदन की पिच पर धुआंधार बैटिंग कर इमरान की हर गेंद के छक्के छुड़ा रहे हैं, जिसके कारण ना सिर्फ पाकिस्तानी सेना और सरकार मुश्किलों में घिर रहे हैं, बल्कि इससे पाकिस्तान के लिए भी बड़ी मुश्किलें खड़ी हो रही हैं। हाल ही ...

मुसलमानों

बाबरी मस्जिद फैसला– कैसे लिबरल मीडिया मुसलमानों को पीड़ित ही बनाए रखना चाहती है

हाल ही में एक अहम निर्णय में सीबीआई के एक विशेष न्यायालय ने बाबरी मस्जिद में आरोपीत 32 व्यक्तियों को ठोस साक्ष्यों के अभाव में निर्दोष करार दिया। न्यायालय ने ये स्पष्ट किया है कि मस्जिद का विध्वंस पहले से सुनियोजित नहीं था, और ऐसे में मस्जिद को गिराने के लिए ...

एसडीपीआई अयोध्या

एसडीपीआई ने बाबरी मस्जिद के समर्थन में 25 लाख लोग जुटाने का किया दावा, आई तीखी प्रतिक्रियाएं

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के समर्थन में 24 और 25 नवंबर को शिव सेना और विश्व हिंदू परिषद ने धर्मसभा आयोजित कर सरकार को मंदिर निर्माण के लिए अल्टीमेटम दिया था। विहिप ने इस कार्यक्रम में पांच लाख लोगों के पहुंचने का दावा किया था। भगवान राम के भजनों ...

बाबर का इतिहास , बाबरी मस्जिद

क्यों राम की नगरी में बाबर जैसे लुटेरे और हत्यारे के नाम पर कोई इबादतगाह बने?

बाबर का इतिहास  ज़हिर उद-दिन मुहम्मद उर्फ़ बाबर। एक ऐसा आक्रमणकारी जिसे योद्धा बताया गया। एक ऐसा जिहादी जिसे धर्मनिरपेक्ष बताया गया। एक ऐसा क्रूर शासक जिसे इतिहास में महान बताया गया। असल में सिर्फ और सिर्फ एक आक्रांता था, एक लुटेरा था जो भारत भूमि को लूटने आया था। ...

कल्याण सिंह पद्म विभूषण

कल्याण सिंह को पद्म विभूषण मिलते ही लिबरलों के खेमे में खलबली मच गई है!

“मुझे आज भी ढांचे के गिरने का कोई अफ़सोस नहीं है। वो मेरी इच्छा नहीं थी, परन्तु आज भी मुझे अपने किये पर कोई पश्चात्ताप नहीं। नो रिग्रेट, नो रिपेंटेन्स, नो सॉरी, नो ग्रीफ, और ढाचें का विध्वंस राष्ट्रीय शर्म का नहीं, राष्ट्रीय गर्व का विषय है!” ये शब्द थे उस ...

पृष्ठ 1 of 14 1 2 14
  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • टिप्पणियाँ
  • नवीनतम

इस सप्ताह लोकप्रिय

Follow us on Twitter

and never miss an insightful take by the TFIPOST team