'भारत और रूस' के लिए खोज परिणाम

Arctic policy, India

आर्कटिक के जरिए पश्चिमी आधिपत्य को एकसाथ बेअसर करेंगे भारत और रूस

भारत एवं रूस दो ऐसे देश हैं जिसने सदैव एक दूसरे की मदद की है। मौजूदा समय में भी रूस के साथ भारत की दोस्ती एक नए आयाम के साथ आगे बढ़ रही है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने वर्ष 2015 में ईस्टर्न इकोनॉमिक फ़ोरम की स्थापना की थी, जिसका ...

dollar

अब भारत और रूस होंगे डॉलर मुक्त! यह है पूरी प्लानिंग

ठीक ही कहा गया है कि किसी का भी घमंड ज्यादा समय तक नहीं टिकता, एक दिन इसका अंत निश्चित है। घमंडी अमेरिका कथित महाशक्ति बनकर विश्व पर अपना दबदबा बनाए रखना चाहता है। वो चाहता है कि पूरी दुनिया उसके हिसाब से चले परंतु अब यही अमेरिका धीरे-धीरे कमजोर ...

India Russia

भारत और रूस ने किया ऐतिहासिक ‘बार्टर समझौता’

रूस यूक्रेन विवाद का वर्तमान संकट तो छोटी बात है, भारत और रूस के संबंधों पर पाश्चात्य देशों की कुदृष्टि से कोई अनभिज्ञ नहीं है। उनका बस चले तो भारत को सम्पूर्ण संसार से अलग थलग करके ही दम ले, परंतु अब भारत ने भी ठान लिया है, झुकेगा नहीं! ...

भारत और रूस

भारत और रूस – घनिष्ठ मित्रता का अनुपम उदाहरण जो पाश्चात्य जगत के लिए एक करारा जवाब है

भारत ने रूस के साथ ‛2+2 मिनिस्ट्रीयल टॉक’ का सफल आयोजन किया है। इस अवसर पर भारत ने अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा उठाया और चीन का नाम लिए बिना ही भारत के रक्षा मंत्री ने स्पष्ट रूप से रूस के समक्ष यह बात रखी कि भारत अपने उत्तरी सीमा ...

म्यांमार

म्यांमार की सेना भारत और रूस की सहायता से अपने देश में चीनी प्रभुत्व को रौंदने की तैयारी कर चुकी है

म्यांमार में हाल ही में हुए तख़्तापलट के पीछे घरेलू राजनीति के साथ-साथ भू-राजनीतिक कारण भी हो सकते हैं। Asia Nikkei की एक रिपोर्ट के मुताबिक पिछले एक दशक में जिस प्रकार चीन ने इस देश पर अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश की, उसके बाद म्यांमार सेना ने बड़ी ही ...

वैक्सीन

भारत और रूस ने चीन को पूरी तरह एशिया में वैक्सीन के खेल से बाहर निकाला दिया हैं

2020 दो बातों के लिए अवश्य याद रखा जाएगा। इस वर्ष चीन में जन्में कोरोना के कारण दुनिया महामारी के संकट से जूझ रही है और इस महामारी का लाभ उठाकर चीन, सही या गलत, किसी भी तरीके से अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश कर रहा है। महामारी की शुरुआत ...

ताजिकिस्तान के अधिकतर क्षेत्रों पर दावा ठोकने वाले चीन को भारत और रूस दिखा सकते हैं बाहर का रास्ता

ताजिकिस्तान के अधिकतर क्षेत्रों पर दावा ठोकने वाले चीन को भारत और रूस दिखा सकते हैं बाहर का रास्ता

चीन की औपनिवेशिक मानसिकता किसी से नहीं छुपी है। इसी का एक उदाहरण है ताजिकिस्तान, जिसे अपने कर्ज जाल में फंसाकर चीन उसका एक तिहाई हिस्सा अपने अधिकार में लेना चाहता है। परंतु यही नीति उसके लिए घातक भी सिद्ध हो सकती है, क्योंकि ताजिकिस्तान रणनीतिक रूप से भारत और ...

Why both Ukraine and Russia never say a word against India?

रूस और यूक्रेन दोनों ही भारत के विरुद्ध एक भी शब्द क्यों नहीं बोलते?

रूस-यूक्रेन युद्ध पर भारत ने जो स्टैंड लिया उसके विरोध में पश्चिम देशों ने खूब बवाल मचाया लेकिन कभी आपने विचार किया है कि क्यों यूक्रेन भारत को लेकर आलोचनात्मक नहीं हुआ? क्यों यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की निरंतर प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत करते रहे? क्यों यूक्रेन इस बात को ...

Indian rupee for global trade

रूस और चीन देखते रह गए लेकिन भारत ने कर दिखाया, वैश्विक हुआ ‘भारतीय रुपया’

India-Sri Lanka Rupee trade: रूस-यूक्रेन युद्ध ने एक ओर तो रूस के मजबूत पक्ष को दुनिया के सामने लाया लेकिन दूसरी ओर कथित वैश्विक शक्ति अमेरिका के खोखलेपन को उजागर भी कर दिया। इस युद्ध के शुरू होने के बाद से ही अमेरिका के अच्छे दिन खत्म हो गए। वैश्विक ...

Delhi turns the table around. Russia calls for Indian defence equipment

रूस भारत से हथियार खरीद रहा है और कितने अच्छे दिन चाहिए

नरेंद्र मोदी सरकार के नेतृत्व में भारत वैश्विक पटल पर अमिट छाप छोड़ रहा है जिससे लगातार भारत का कद बढ़ रहा है। भारत सरकार हर स्तर पर देशहित में फैसले ले रही है जिसके कारण देश की विदेश नीति की हर ओर प्रशंसा हो रही हैं। वैश्विक मंचों पर ...

भारत FTA

अमेरिका और रूस के बाद अब विश्व का ‘तीसरा ध्रुव’ बन रहा है भारत, ये रहे प्रमाण

देखो बंधुओं, विश्व दो ध्रुवों में बंटा हुआ है ये तथ्य है। तब अमेरिका और सोवियत संघ थे, आज रूस और अमेरिका हैं। बीच में चीन ने भी धक्कामुक्की की परंतु हाथ कुछ न आया। पर एक देश ऐसा भी है, जिसका प्रभाव सबसे मजबूत और सबसे अलग है और ...

oil

G7, रूस और ईराक, तेल को लेकर भारत के समक्ष प्रार्थना क्यों कर रहे हैं?

भारत जिस गति से आज विकास की राह पर अग्रसर है उसे रोक पाने की हिम्मत अब किसी देश में नहीं रह गयी है। एक समय था जब कई देश भारत को आंखें दिखाते थे वहीं आज ये देश अनुरोध की मुद्रा में आ चुके हैं जिसका नया उदाहरण हाल ...

पृष्ठ 1 of 99 1 2 99
  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • टिप्पणियाँ
  • नवीनतम

Follow us on Twitter

and never miss an insightful take by the TFIPOST team