कोरोना वायरस : सीमाओं पर हवाई अड्डे जैसी प्रक्रिया अपनाने के निर्देश

0
व्यूज़
0
शेयर्स
- फ़ॉन्ट साइज़ +

नई दिल्ली, 14 फरवरी (आईएएनएस)। चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए गृह मंत्रालय ने भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) को संक्रमण से बचने के लिए सुरक्षा के निवारक उपायों के रूप में सीमाओं पर हवाई अड्डे जैसी स्क्रीनिंग प्रक्रियाओं को अपनाने का निर्देश दिया है।

इस सप्ताह जारी एक एडवाइजरी में मंत्रालय ने आईटीबीपी, एसएसबी और अन्य विभागों को निर्देश दिया है कि वे नोवेल कोरोना वायरस के बारे में सीमाओं पर सतर्कता बनाए रखें।

इस वायरस को विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने एक नया नाम, कोविड-19 दिया है।

सूत्रों ने कहा कि यह एडवाइजरी विशेष रूप से अर्धसैनिक बलों और अन्य विभागों को सीमा चौकियों पर हवाई अड्डे जैसी जांच प्रक्रियाओं का पालन करने के लिए जारी की गई है। दो अर्धसैनिक बलों को एडवाइजरी जारी की गई है, जिसमें आईटीबीपी 3,488 किलोमीटर की भारत-चीन सीमा की निगरानी करती है। वहीं एसएसबी पर 1,751 किलोमीटर की भारत-नेपाल और 699 किलोमीटर की भारत-भूटान सीमाओं की रखवाली की जिम्मेदारी है।

अधिकारियों ने कहा कि इस बीच भारतीय बंदरगाह अधिकारियों ने चीन के साथ ही हांगकांग, मकाऊ, थाईलैंड और सिंगापुर से समुद्री जहाजों के चालक दल को उतरने की अनुमति नहीं देने का फैसला किया है। यह फैसला घातक कोरोना वायरस के प्रसार से बचने के लिए लिया गया है।

चीन में इस वायरस के कारण मौत का आंकड़ा 1,367 तक पहुंच चुका है, जबकि अभी तक वायरस से जुड़े कुल 59,804 मामले सामने आ चुके हैं। चीन के हुबेई प्रांत में 14,840 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है और वहां मरने वालों की संख्या 242 पहुंच गई है। वुहान शहर इस प्रकोप का केंद्र है, जोकि हुबेई प्रांत की राजधानी है।

चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि उसके 1,716 चिकित्सा कर्मचारी भी इस वायरस से संक्रमित हो गए हैं, जो देश में कुल मामलों के 3.8 फीसदी हैं।

वायरस चीन के बाहर 20 से अधिक देशों में भी फैल चुका है, जिससे सैकड़ों लोग प्रभावित हुए हैं। भारत वायरस से बचने और यहां इसके प्रसार पर लगाम कसने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। इसके साथ ही भारत सरकार मालदीव और अफगानिस्तान सहित पड़ोसी देशों की मदद भी कर रही है। सरकार ने चीन से सात मालदीव के नागरिकों सहित कुल 654 लोगों को निकाला है।

–आईएएनएस


Indo Asian News Service

Indo Asian News Service

India's Largest Independent News Service

  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • नवीनतम

इस सप्ताह लोकप्रिय