नई शिक्षा नीति बच्चों के लिए समान अवसर सुनिश्चित करेगी : प्रकाश झा

0
व्यूज़
0
शेयर्स
- फ़ॉन्ट साइज़ +

मुंबई, 1 अगस्त (आईएएनएस)। फिल्मकार प्रकाश झा ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) की सराहना की है और उनका मानना है कि यह भारत में एक परिवर्तित शिक्षा प्रणाली का मार्ग प्रशस्त करेगी।

शिक्षा नीति में बदलाव को लेकर झा की गहरी दिलचस्पी स्पष्ट है, क्योंकि उनकी नई फिल्म परीक्षा : द फाइनल टेस्ट शिक्षा में समानता के मुद्दे के बारे में है। वास्तविक घटनाओं से प्रेरित, फिल्म इस विषय के बारे में है कि कैसे गुणवत्तापूर्ण शिक्षा अभी भी जनता के लिए मुश्किल है और यह स्थिति समाज को बांटती है।

झा ने कहा, परीक्षा : द फाइनल टेस्ट हमारे देश में गरीबों के लिए गुणवत्तापूर्ण और समग्र शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डालती है, क्योंकि यह समाज का सबसे बड़ा लेवलपर है। मैं नई शिक्षा नीति 2020 के सकल घरेलू उत्पाद का छह प्रतिशत शिक्षा क्षेत्र को आवंटित करने और शैक्षणिक संस्थानों द्वारा लगाए गए शुल्क को कम करने के निर्णय की सराहना करता हूं।

उन्होंने कहा, यह भारत में एक परिवर्तित शिक्षा प्रणाली का मार्ग प्रशस्त करेगी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्राप्त करने के लिए देश के बच्चों के लिए सार्वभौमिक पहुंच और समान अवसर सुनिश्चित करेगी।

झा की आगामी फिल्म छह अगस्त को जी 5 पर रिलीज होगी। इसमें आदिल हुसैन, प्रियंका बोस, संजय सूरी और बाल कलाकार शुभम झा हैं।

–आईएएनएस


Indo Asian News Service

Indo Asian News Service

India's Largest Independent News Service

  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • नवीनतम

इस सप्ताह लोकप्रिय