'वीर सावरकर' के लिए खोज परिणाम

लता मंगेशकर सावरकर

लता मंगेशकर घृणा से भरे फिल्म उद्योग में आगे भी बढीं और वीर सावरकर का गुणगान भी किया

‘नाम गुम जाएगा, चेहरा ये बदल जाएगा, मेरी आवाज़ ही पहचान है’ ‘अजीब दास्तान है यह, कहाँ शुरू कहाँ खत्म, यह मंज़िलें हैं कौन सी, न वो समझ सकें न हम!’ कुछ ऐसे ही कर्णप्रिय गीतों से हमें मोहित कर देने वाली ‘सुर साम्राज्ञी’ लता मंगेशकर का आज 93वां जन्मदिवस ...

हृदयनाथ मंगेश्कर

कांग्रेस राज में वीर सावरकर पर धुन बनाना पं हृदयनाथ मंगेशकर को पड़ा था भारी, इतिहासकार विक्रम संपत का बड़ा खुलासा

कांग्रेस पार्टी देश की स्वतन्त्रता का श्रेय तो ऐसे लेती है, मानों इस परिवार ने अनेकों त्याग किए हों, किन्तु उसके घमंड के विपरीत यथार्थ सत्य ये है कि कांग्रेस अपने कार्यों के आगे सभी को छोटा समझती है, और सबसे अधिक घृणा स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर से करती है, ...

जेएनयू, आइशी घोष, वामपंथी, JNU,

वीर सावरकर के नाम से ही लिबरल गैंग दहाड़े मारने लगती है, JNU में आज यही हुआ

वामपंथ एक सोच है, एक विचार है। इसमें एकता तो कमाल की है, और कई वर्षों तक इस विचारधारा ने भारत पर सफलतापूर्वक राज किया है। परंतु इस विचारधारा की भी एक कमजोरी है- गैर वामपंथी और हिंदुवादी व्यक्तित्वों से नफरत करना। जी हां, कभी कभी कुछ ऐसे व्यक्ति सामने ...

जेएनयू, आइशी घोष, वामपंथी, JNU,

‘वीर सावरकर’ के नाम पर JNU की सड़क होने के बाद आइशी घोष का भयंकर मातम शुरु

वीर सावरकर को लेकर जेएनयू के लिबरलों को फिर से मिर्ची लगी है। जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने वीर सावरकर के नाम पर बने सड़क को लेकर सरकार पर निशाना साधा है। घोष ने कहा है यूनिवर्सीटी की रोड का नाम विनय दामोदर सावरकर रखा गया है जो ...

राज ठाकरे

शिव सेना ने जो खोया, वो MNS ने पाया, राज ठाकरे ने वीर सावरकर को सम्मान दे उद्धव ठाकरे को आईना दिखाया

कल बालासाहेब ठाकरे के जन्मदिवस के अवसर पर उनके भतीजे राज ठाकरे ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का रंग रूप बदलते हुए उसे हिन्दुत्व केन्द्रित बनाया। राज ठाकरे ने एमएनएस के पुराने झंडे के स्थान पर अपने नए झंडे को न केवल भगवा रंग दिया, अपितु छत्रपति शिवाजी महाराज के चर्चित ...

वीर सावरकर

कांग्रेस ने वीर सावरकर के नाम को बदनाम करने के लाख प्रयास किये, पर अब वो आइकन बन गए हैं

वीर दामोदर सावरकर! एक ऐसा नाम, जिससे विरोधियों में एक अजीब सी खलबली मच जाती है खासकर कांग्रेस में। कांग्रेस को शुरू से ही सावरकर से एक अलग प्रकार की चिड़ रहती है। जब तक कांग्रेस सत्ता में थी, सावरकर का नाम सिर्फ भाजपा और कुछ ऑर्गेनाइजेशन के द्वारा ही ...

वीर सावरकर, राहुल गांधी, कांग्रेस

चांदी की चम्मच मुंह में लेकर पैदा होने वाले राहुल गांधी, आप वीर सावरकर कभी नहीं हो सकते!

हाल ही में कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरने के लिए ‘भारत बचाओ रैली’ का आयोजन किया था। यह रैली दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस ने आयोजित कराई थी, जिसमें गांधी परिवार और पी चिदम्बरम समेत पार्टी की कई बड़ी हस्तियां मौजूद थी। निस्संदेह ये रैली भारत को वर्तमान ...

सावरकर

वीर सावरकर को ‘भारत रत्न’ दिए जाने की बात पर छाती क्यों पीट रही है कांग्रेस?

महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार चरम पर है। भाजपा सत्ता वापसी के लिए पूरी तरह से तैयार है, और इसके लिए वह कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। भाजपा ने हाल ही में अपना चुनावी घोषणापत्र जारी किया है, जिसमें उसने कई चुनावी वादे निभाने को कहा है। इनमें प्रमुख हैं अगले ...

‘हम सावरकर को नहीं मानते, जिन्ना को मानेंगे’, JNU में सावरकर मार्ग पर जिन्ना की तस्वीर

‘हम सावरकर को नहीं मानते, जिन्ना को मानेंगे’, JNU में सावरकर मार्ग पर जिन्ना की तस्वीर

जेएनयू के सुबनसर हॉस्टल के नजदीक एक सड़क का नाम बदलकर वीर सावरकर मार्ग रख दिया गया है जिससे वामपंथियों को भयंकर मिर्ची लगी है। कल जेएनयू अध्यक्ष आइशी घोष ने ट्वीट कर अपनी भड़ास निकाली थी और आज जेएनयू के वामपंथियो ने अपना असल पाकिस्तान प्रेम दिखा दिया है। दरअसल, ...

राजस्थान पाठ्यपुस्तकों वीर सावरकर कांग्रेस

शर्मनाक! क्या सावरकर वीर नहीं हैं? तो फिर राजस्थान में कांग्रेस सरकार क्यों बता रही उन्हें कायर

इतिहास को अपने नजरिये से तोड़-मरोड़ कर पेश करना कांग्रेस सरकारों की फितरत रही है चाहे फिर उससे हमारी गौरवशाली संस्कृति को धक्का ही क्यों ना पहुंचे। आजादी के बाद से ही कांग्रेस सरकारों ने पाठ्यपुस्तकों में इस तरह का इतिहास परोसा जो वामपंथी विचारधारा से प्रभावित था। केंद्र व ...

सावरकर और सुषमा स्वराज के नाम पर 2 नए कॉलेजों का नाम रखेगा दिल्ली विश्वविद्यालय

सावरकर और सुषमा स्वराज के नाम पर 2 नए कॉलेजों का नाम रखेगा दिल्ली विश्वविद्यालय

जो तारीख में जिंदा नहीं रखते हैं, वो तारीख में जिंदा भी नहीं रहते हैं। किसी बुद्धिमान व्यक्ति ने यह बात कही थी। आज जब इतिहास के महान नायकों की सर्वोच्चता की लड़ाई चल रही है तो उन महान नायकों का तप भी प्रशंसा और प्रतिरोध के वर्ग में बंट ...

Shivsena, savarkar

क्या सावरकर के बलिदान से बढ़कर हो गई है सत्ता? शिवसेना के रवैये से तो ऐसा ही लगता है!

कॉमन मिनिमम प्रोग्राम...ये शब्द हमने देश की राजनीति में दो पार्टियों के गठबंधन के दौरान कई बार सुना है। इसको लेकर राजनीतिक पार्टियों का तर्क रहता है कि गठबंधन कुछ समान जनहित के मुद्दों पर होगा। इसके विपरीत ऐसे गठबंधन मात्र राजनीतिक महत्वाकांक्षा के पर्याय होते हैं। महाराष्ट्र की महाविकास ...

पृष्ठ 1 of 6 1 2 6
  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • टिप्पणियाँ
  • नवीनतम

इस सप्ताह लोकप्रिय

Follow us on Twitter

and never miss an insightful take by the TFIPOST team