'रवीश कुमार' के लिए खोज परिणाम

Ravish Kumar

जनता की रिपोर्ट से लेकर ‘कुंठा की नौटंकी’ तक रवीश कुमार की यात्रा

"आप सभी को नमस्कार, जनता का वफादार मैं रवीश कुमार" कभी इसी व्यक्ति को देखने के लिए लोग टीवी से चिपक जाते थे मानो मंगल ग्रह से आया कोई अजूबा हो जिसे न कभी पहले देखा न कभी सुना। वैसे भी रवीश से पूर्व जमीन से जुड़े पत्रकार सिर्फ कथा ...

कथित पत्रकार रवीश कुमार ‘पांडे’ को ‘ब्राह्मण बस्ती’ से क्या समस्या है?

कथित पत्रकार रवीश कुमार ‘पांडे’ को ‘ब्राह्मण बस्ती’ से क्या समस्या है?

एक होते हैं बौड़म, फिर आते हैं ढपोरसंख और इसके बाद आते हैं रवीश कुमार पाण्डे जैसे वामपंथी पत्रकार, जिन्हे संसार में हर चीज़ से समस्या है। मोदी सरकार जीते तो समस्या, भारत ओलंपिक में गोल्ड जीते तो समस्या, सनातन संस्कृति की जय हो तो समस्या और वो सब तो ...

रवीश कुमार अग्निपथ

अग्निपथ योजना के कारण भड़की हिंसा के लिए केवल रवीश कुमार हैं जिम्मेदार!

संसार में अपशब्दों का आविष्कार इसलिए नहीं हुआ था कि एक व्यक्ति को देख स्वयं ही अपशब्द निकलने लगे। जी हां बात यहां हो रही है रवीश कुमार पांडे की। अफवाह फैलाओगे, उपद्रव कराओगे और ट्रेन भी जलवाओगे, इन महाशय की कुंठा का कोई अंत है कि नहीं? इस लेख ...

रवीश कुमार कांग्रेस

पीएम मोदी की सुरक्षा में हुई चूक पर कांग्रेस को बचाने हेतु रवीश कुमार ने फैलाई फर्जी खबर

रवीश कुमार यदि पत्रकार न होकर भारतीय हॉकी टीम/ फुटबॉल टीम में होते, तो टीम को कभी भी अच्छे डिफेंडर की कमी नहीं होती। अब आप भी सोच रहे होंगे कि हम ऐसा क्यों कह रहे हैं? दरअसल, वो अपने आकाओं का बचाव ही ऐसे करते हैं, जिससे सबकुछ यूं ...

Hathway

Hathway Cable ने NDTV को अपने चर्चित चैनलों की श्रेणी से क्या हटाया रवीश कुमार छाती पीटने लगे

अटेन्शन गजब बीमारी है भैया। इसे पाने के लिए लोग किसी भी हद तक जा सकते हैं, चाहे वो इसके योग्य हो या न हो। किसी समय यूपीए सरकार के ‘तारणहार’ माने जाने वाले एनडीटीवी की प्रासंगिकता अब लगभग खत्म हो चुकी है। सरकार तो छोड़िए, जनता में भी कोई ...

रवीश कुमार फ़ेसबुक

‘हजार लानत उस IT Cell को जिसने केरल को बदनाम किया’, रवीश कुमार और उनका लॉजिक

रवीश कुमार यदि पत्रकार न होकर भारतीय हॉकी टीम / फुटबॉल टीम में होते तो टीम को कभी भी अच्छे डिफेंडर की कमी ही नहीं होती। वे अपने आकाओं का बचाव ही ऐसे करते हैं। जब से केरल पर बकरीद के नाम पर ढिलाइ बरतने और स्थिति को बद से ...

फेसबुक पोस्ट

8 मिलियन टीकाकरण की उपलब्धि को वामपंथियों ने भी सराहा, पर रवीश कुमार अपना एजेंडा सेट करने में लगे हैं

हाल ही में 21 जून को केंद्र सरकार ने अपने टीकाकरण अभियान के अंतर्गत टीकाकरण का भार अपने ऊपर लेने का निर्णय लिया। ये अपने आप में एक अभूतपूर्व निर्णय है, जिसके परिणाम कल ही दिख गए। एक ही दिन में रिकॉर्ड 85 लाख लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित हुआ, जो ...

रोहित सरदाना के निधन पर रवीश कुमार का एजेंडा तैयार- डॉक्टरों पर ही सवाल खड़ा कर दिया

रोहित सरदाना के निधन पर रवीश कुमार का एजेंडा तैयार- डॉक्टरों पर ही सवाल खड़ा कर दिया

आजतक के वरिष्ठ पत्रकार रोहित सरदाना का शुक्रवार को हृदयघात से निधन हो गया। वे कोरोना से भी लड़ रहे थे और नॉएडा के एक अस्पताल में भर्ती थे। जब से उनके असामयिक निधन की खबर आई, राजनीतिक गलियारे से लेकर आम आदमी तक सभी ने शोक संवेदना व्यक्त की।हालाँकि ...

“ये मोदी इतना पॉपुलर क्यों है?” रवीश कुमार एंड कंपनी ने प्रशांत किशोर से पूछे बेवकूफी भरे सवाल

“ये मोदी इतना पॉपुलर क्यों है?” रवीश कुमार एंड कंपनी ने प्रशांत किशोर से पूछे बेवकूफी भरे सवाल

कहते हैं, जो होता है, अच्छे के लिए होता है। द वायर की स्टार पत्रकार रोहिणी सिंह ने कल रात बताया कि क्लबहाउस एप पर एक चैट होने वाली है, जिसमें कुछ चुनिंदा हस्ती आमंत्रित है। पहले लोगों को समझ में नहीं आया। लेकिन आज सुबह जब उसी एप पर ...

रवीश कुमार

आज Valentine’s Day पर आपने रवीश कुमार का उपदेश पढ़ा? अब पढ़ लीजिये वो उपदेश जो इनसे किसी ने मांगी नहीं

हमारे मोहल्ले में भिन्न भिन्न प्रकार के लोग होते है। इनमें से कुछ ऐसे भी होते हैं, जिन्होंने जीवन में कोई विशेष उपलब्धि न प्राप्त की हो, परंतु जताते ऐसा हैं, मानो इनसे ज्ञानवान कोई संसार में है ही नहीं। ऐसे ही एक महापुरुष हैं अपने मैग्सेसे पुरस्कार विजेता रवीश ...

रवीश कुमार ने PRIME TIME में दिखाया साफ झूठ, बाद में मांगनी पड़ी माफ़ी!

रवीश कुमार ने PRIME TIME में दिखाया साफ झूठ, बाद में मांगनी पड़ी माफ़ी!

बहुत कम ऐसा होता है कि बेशर्मी से सफेद झूठ बोलने वालों को अपनी गलती स्वीकारने पर विवश होना पड़े। लेकिन रवीश कुमार के मामले में ऐसा ही हुआ है। हाल ही में कृषि कानून के मामले में रेल एवं वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल के एक ट्वीट पर भ्रामक अफवाहें ...

रवीश

जानिए, क्या रहा बिहार चुनावों पर रवीश कुमार पांडे का शानदार विश्लेषण

बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजों को लेकर सभी पत्रकार अपने-अपने तरीके से अपने विश्लेषण कर रहे हैं, लेकिन अगर किसी ने सही विश्लेषण किया है तो वो केवल मैग्सेसे अवॉर्ड विजेता और एनडीटीवी के लिए काम करने वाले रवीश कुमार पांडे हैं। रवीश जो जातीय समीकरण के चलते अपने नाम ...

पृष्ठ 1 of 11 1 2 11
  • सर्वाधिक पढ़े गए
  • टिप्पणियाँ
  • नवीनतम

Follow us on Twitter

and never miss an insightful take by the TFIPOST team