'एस. जयशंकर' के लिए खोज परिणाम

Operation Ajay: जयशंकर हो साथ तो किस बात की चिंता?

इज़राइल-हमास संघर्ष के बीच, भारत ने एक बार फिर दुनिया को दिखाया है कि वह कूटनीतिक और सांस्कृतिक रूप से एक ताकतवर राष्ट्र क्यों है। जैसा कि दुनिया मध्य पूर्व में उथल-पुथल देख रही है, भारत ने इज़राइल को ...

जयशंकर ने तो लिबरल बिरादरी और कांग्रेस को चीर फाड़ दिया

"मैं एक उदाहरण देता हूँ, अभी कुछ समय पूर्व हो हल्ला चीन द्वारा विवादित क्षेत्र में पुल बनाने को लेकर। ये क्षेत्र क्या अभी अभी चीनी नियंत्रण में आया? नहीं न, ये 1962 से उनके नियंत्रण में है। फिर ...

‘धूम मचा रही है भारत की विदेश नीति’, फिर भी जयशंकर के पीछे क्यों पड़े हैं वामपंथी?

क्रिकेट में स्लेजिंग तो आप सबने देखी या सुनी तो अवश्य होंगी, परंतु राजनीति में कभी स्लेजिंग सुनी है? इसका कांग्रेस से शत प्रतिशत नाता नहीं है, परंतु कुछ ऐसे लोग हैं, जो वामपंथी लॉबी के अपेक्षाओं के ठीक ...

“हमें हिंदू राष्ट्रवादी बताते हैं, अपने देश को ईसाई राष्ट्रवादी क्यों नहीं?” जयशंकर ने चीन का नाम लेकर राहुल को ढंग से लपेट दिया

भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने पुणे में किसी को भी नहीं बक्शा, न तो उन्होंने चीन को बक्शा, न ही पाकिस्तान को और न ही कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी को। उन्होंने राहुल गांधी का नाम ...

जयशंकर को ज्ञान देने चले थे राहुल गांधी और केजरीवाल, लग गई

एस जयशंकर का नाम सुनकर सबसे पहले आपके दिमाग में क्या आता है? आप निश्चित तौर पर यहीं सोचते होंगे कि इस बार फिर से किसी बड़े देश को लताड़ पड़ी है, संयुक्त राष्ट्र को लपेटे में लिया गया ...

सऊदी को कर दिया लेकिन अमेरिका ने भारत को नहीं किया ब्लैक लिस्ट, वजह जयशंकर हैं

Religious freedom list: भूमिका नहीं बनाऊंगा, सीधे पॉइंट पर बात करूंगा... अमेरिका के अंदर आज भारत की वज़ह से झगड़ा हो रहा है। जी हां, आपने बिल्कुल सही सुना। अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने उन देशों को ब्लैकलिस्ट में ...

‘भारत को ज्ञान न दे’, पश्चिमी देशों के व्यवहार पर दिखा जयशंकर का ‘रौद्र रूप’

इस दुनिया में तकरीबन हर खराब चीज बदली जा सकती है लेकिन अगर कुछ नहीं बदली जा सकती है तो वह है किस्मत। लेकिन वैश्विक स्तर पर भारत की स्थिति को देखकर यह कहा जा सकता है कि अगर ...

एस जयशंकर ने तीखी आलोचना के साथ संयुक्त राष्ट्र की बखिया उधेड़ दी

कहते हैं कि यदि पंचों की ताकत कम हो तो उनका फैसला कोई नहीं मानता, न्यायालय यदि एक दो बार गलत फैसले दे दें तो उनकी विश्वसनीयता भी खत्म हो जाती है। समय के साथ यदि इंसान या संस्थान ...

“No Asia for Asians”, एस जयशंकर ने पढ़ाया चीनियों को वैश्विक कूटनीति का पीठ

जब धरती लगे फटने तो खैरात लगी बंटने। कुछ ऐसा ही हाल इस समय चीन का है, जहां वह एशिया में कम होते अपने प्रभाव को बचाने के लिए बिलबिलाता घूम रहा है। वहीं, चीन के साथ आगामी भविष्य ...

‘भारतीयों के लिए बेहतर डील सुनिश्चित करना मेरा कर्तव्य है’, जयशंकर ने पश्चिमी देशों की हेकड़ी निकाल दी है

जहां एक ओर अधिकांश देशों ने यूक्रेन और रूस क युद्ध के मध्य रूस पर कई तरह के प्रतिबंध लगाते हुए उससे कुछ भी खरीदने पर प्रतिबंध लगा दिया, वहीं, दूसरी ओर भारत रूस से कच्चे तेल का लगातार ...

एस जयशंकर ने अमेरिका को ज्ञान देने लायक नहीं छोड़ा

भारत की “जयशंकर नीति” का प्रभाव आज पूरी दुनिया पर पड़ता हुआ देखने को मिला रहा है। जब से सुब्रमण्यम जयशंकर के हाथों में मंत्रालय की कमान आई है, तब से भारत की विदेश नीति में जमीन आसमान का ...

मिलिए जयशंकर फैन क्लब के नवीनतम सदस्य रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव से

हर कोई असली प्रतिभा की सराहना करना पसंद करता है। इसलिए जब भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर की बात आती है, तो उनके प्रशंसकों की बाढ़ सी आ जाती है। भारत समेत दुनिया के तमाम राजनेता जयशंकर ...

पृष्ठ 2 of 6 1 2 3 6

Follow us on Twitter

and never miss an insightful take by the TFIPOST team